Categories
रोग एवं उपचार

नशा : शराब, गाँजा, भांग, अफीम इत्यादि का ईलाज – SahiAurGalat

नशा के नियंत्रण के लिए फोटो

नशा होता क्या है?

नशा चाहे शराब की हो, गाँजा की हो, अफीम या फिर भांग की हो। इस अवस्था में इंसान का दिमाग और शरीर दोनों वश में नही होता है। अगर आप कभी सही समय में नशे का शिकार हो जाएँ। तो उस सही समय में न जाने कितनी गलतियाँ हो सकती है। फिर बाद में पछताने के सिवाय आपके पास कुछ नही बचेगा।

नशे को तुरंत ख़त्म करने के लिए मै आपको आज कुछ घरेलू तथा जड़ी-बूटी उपाय बताऊंगा। जो बहुत ही ज्यादा असरदार साबित होगी किसी नशे में धूत व्यक्ति के लिए।

रामबाण घरेलू उपचार

  1. मोथे का काढ़ा पिलाने से शराब का मादकता तुरंत उतर जाता है।
  2. सेव का जूस पिलाने से शराब का नशे ख़त्म हो जाते है।
  3. पानी या दूध में थोड़ा सा फिटकरी घोलकर पिलाने से शराब का मादकता झट से गायब हो जायेगा।
  4. अफीम के नशे में धूत व्यक्ति को अरहर की पत्ती पीसकर पिलायें।
  5. 25 ग्राम अरहर को पानी में उबालकर, भांग में धूत नशेड़ी को पिलायें।
  6. अफीम के नशे में चूर नशेड़ी को थोड़ा हिंग, पानी में घोलकर पिलायें, मादकता ख़त्म हो जायेगा।
  7. काला नमक, हिंग, अजवायन, सोंठ, चव्य (piper chaba) सबको पीसकर, नींबू का रस मिलाकर चूर्ण तैयार कर लें। अब इस चूर्ण को किसी प्रकार के नशे में धूत नशेड़ी को खिलाएं



नशा के लिए आयुर्वेदिक उपचार

  • शंखचूर्ण शराब के नशे को ख़त्म करने के लिए लाभकारी होता है।

 

होम्योपैथिक दवा – असिड सल्फ 6, 200 : मूर्छित शराबी को ठीक कर देता है।

नशा के विषय में कुछ ज़रूरी बातें

  • चरस, शराब, गाँजा, भांग, अफीम, इत्यादि चीजों से दूर रहें।
  • ऊपर बताये गए उपचार का ज्यादा इस्तेमाल न करें। अर्थात अगर फायदा नहीं हो रहा है तो, किसी नशामुक्ति विशेषज्ञ या डॉक्टर से परामर्श लें। धन्यवाद !

धन्यवाद !

इस पेज के शुरुआत के यानी ऊपर दाहिने तरफ साइडबार में दिए गए सब्सक्राइब विकल्प में ईमेल आई. डी. डालकर आप हमें सब्सक्राइब कर सकते है। ताकि भविष्य में आने वाली हर एक लेख आपको सबसे पहले मिल सके।

आप हमें > फेसबुक | ट्विटर | गूगल + | यूट्यूब < पर फॉलो कर सकते हैं।