Category «प्रेरणादायक बातें»

महान ऊर्जा और हमारी समझ : भाग १ – SahiAurGalat

महान ऊर्जा और हमारी समझ

दोस्तों आज हम उसके बारे में बात करेंगे जिसका कोई नाम नहीं, रूप नहीं, लिवाज़ नहीं, रहन – सहन नहीं, कोई आकर नहीं, कोई प्रकार नहीं, जितना कुछ हम कल्पना करते है उसमे से कुछ भी नहीं। मगर फिर भी कहीं न कहीं वो है, बल्कि ये कहो कि वो हर कहीं है, या कह लो …

ज़िन्दगी कैसी है पहेली : प्रेरणादायक बातें – SahiAurGalat

ज़िन्दगी कैसी है पहेली

जिंदगी एक ऐसा शब्द है जिसको सुनकर ही लगता है कि एक ऐसा शब्द जो पूरे संसार में सबसे श्रेष्ठ है, जो सबसे महान है। इसमें इतनी महानता है कि बड़े से बड़ा इन्सान या जीव, जो भी इसका अर्थ समझते है, इसकी महानता को भलीभाति समझते है कि ज़िन्दगी क्या है। शायद मै अपने …

किसान और राजा की कहानी : बकरी मेरे दो गाँव खा गयी – SahiAurGalat

आज की कहानी किसान और राजा पर आधारित है। सालों पहले की बात है! एक किसान सड़क पर भागते हुये चिल्ला रहा था और कह रहा था की, बकरी दो गाँव खा गयी – बकरी मेरे दो गाँव खा गयी। लोग उसकी इस बात को सुनकर बड़े हैरत मे पड़ गए की, भला एक बकरी दो …

भारत के 50 महान वैज्ञानिक और उनके खोज – SahiAurGalat

50-महान-वैज्ञानिक

(1) प्राचीन चिकित्साशास्त्री व शल्यचिकित्सक सुश्रुत (600 ईसा पूर्व): इन्हे शल्य चिकित्सा का जनक कहा जाता है। (2) आयुर्वेद विशारद चिकित्साशास्त्री चरक (300 ईसा पूर्व): कुषाण राज्य के महान राजवैद्य महर्षि चरक ने “चरक संहिता” नामक ग्रंथ की रचना की। जिसमे बहुत सारे आयुर्वेदिक दवाइयों के बारे मे उल्लेख किया गया है। (3) ज्योतिषविद्द और गणितज्ञ हलायुध (10 ईस्वी): …

भविष्य के लिए वर्तमान न खोयें, वर्तमान ही आपकी आने वाली भविष्य है

प्रेरणादायक कहानी

शेर, भविष्य और जंगल एक बहुत ही खुशनुमा और हरा भरा जंगल था। उस जंगल के सभी जीव-जंतु और जानवर बड़े ही सुख-शांति से जीवन व्यतीत करते थे। क्यूँकि उस जंगल के राजा शेर खान हमेशा अपने जंगल के सभी जीव-जंतु और जानवरों की रक्षा करते थे। कुछ समय पश्च्यात दुसरे जंगल के कुछ दुष्ट जानवर …

करवा चौथ की प्रेरणादायक कहानी : करक चतुर्थी

karwa chauth vrat

करवा चौथ हिन्दुओ का त्यौहार है, इसे “करक चतुर्थी” के नाम से भी जाना जाता है। यह एक दिन का त्यौहार है। और इस त्यौहार को मुख्यतः विवाहित महिलाएं ही मनाती हैं। धर्म धर्मान्तर के कथित अनुसार यह पर्व कार्तिक माह के कृष्णा चतुर्थी पक्ष में होना यथा उचित है। करवा चौथ का पर्व महिलाएं …

बुराई की जड़ का अंत : चाणक्य की प्रेरणादायक बातें – SahiAurGalat

चाणक्य की प्रेरणादायक बातें

मगध के महामंत्री चाणक्य एक दिन राज काज से सम्बंधित किसी परामर्श के लिए मगध के सम्राट चंद्रगुप्त से मिलने जा रहे थे। अभी कुछ की दुरी तय हुयी थी, तभी अचानक रास्ते में उनके पाँव में काँटा चुभ गया। जिसके वजह से उनके मुख से पीड़ा भरी चीख निकल आयी। तत्पश्च्यात उन्होंने शीघ्र ही …