किसान और राजा की कहानी : बकरी मेरे दो गाँव खा गयी – SahiAurGalat

आज की कहानी किसान और राजा पर आधारित है। सालों पहले की बात है! एक किसान सड़क पर भागते हुये चिल्ला रहा था और कह रहा था की, बकरी दो गाँव खा गयी – बकरी मेरे दो गाँव खा गयी। लोग उसकी इस बात को सुनकर बड़े हैरत मे पड़ गए की, भला एक बकरी दो …

अनार (Pomegranate) के फायदे, नुकसान और पोषण तत्व – SahiAurGalat

anar-pomegranate-phayde-nuksan-poshan-tatv

अनार को अँग्रेजी मे पोमेग्रेनेट (Pomegranate) और संस्कृत मे दाड़िम कहते है। इसका फल कच्चा होता है तब तब हरे रंग का होता है तथा पकने के बाद गुलाबी-लाल रंग का हो जाता है। इस फल को छिलकर इसके अंदर के बीज को खाया जाता है, या फिर इस बीज का रस निकालकर पीते है। …

अमरूद (Guava) के फायदे, नुकसान और पोषण तत्व – SahiAurGalat

amrud guava

हर फल का कुछ न कुछ विशेष गुण होता है, तथा उसी गुण के आधार पर उसका कुछ विशेष नाम भी होता है। अमरूद भी उन्ही फलों मे से एक है, जिसे प्रचीनकाल से अमृतफल भी कहते है। इसको अँग्रेजी मे (ग्वावा) Guava कहते है। यह फल मुख्य रूप से मध्य अमेरिका, मेक्सिको और उत्तरी-दक्षिणी …

सेब (Apple) के फायदे, नुकसान और पोषण तत्व – SahiAurGalat

apple-sev-सेब

यह सेब एक ऐसा फल है जिसे नियमित रूप से रोज 1 खाना मतलब बीमारियों को दूर भगाना। सेब को अँग्रेजी मे apple (एप्पल) कहते है। इसका रंग लाल, हरा या फिर इन दोनों रंगो का मेल होता है। इसका स्वाद एक अलग अनुभूति देने वाला सुनहरा मीठा होता है। इसकी आकृति लगभग गोलाकार होती है। …

फालसा (Phalsa) फल – फायदे और नुकसान : SahiAurGalat

फालसा फल का फोटो

ग्रीष्म ऋतु कि अनोखी और लाजवाब फालसा फल बहुत ही गुणकारी फल होता है। इसका वैज्ञानिक नाम Grewia Asiatica है। पकने से पहले यह हरे रंग का होता है और पकने के बाद गाढ़ा बैंगनी रंग का हो जाता है। यह आकार मे गोलनुमा होता है, इसकी व्यास लगभग 0.25 इंच का होता है। फालसा …

टमाटर और इसके फायदे, नुकसान – SahiAurGalat

टमाटर-tomato-phayde-nuksan

यह (टमाटर) एक ऐसा फल है जो पकने के पहले हरा और पकने के बाद लाल हो जाता है। इसे पकने के बाद बिना पकाए भी खा सकते है तथा सब्जी, चटनी इत्यादि बनाने के लिए उपयोग मे ले सकते है। मुख्य रूप से यह दक्षिणी अमेरिका का फल है। इसे अँग्रेजी मे टोमॅटो (Tomato) …

BC (ईसा पूर्व) और AD(ईस्वी) क्या होता है ? – SahiAurGalat

BC-AD

BC और AD का नामकरण ऐतिहासिक काल के समय को समझने और मापने के लिए बनाया गया था। ये दोनों शब्द ईसा मसीह के जन्म से ताल्लुक रखते है। ईसा मसीह के जन्म के पूर्व के समय को BC तथा उनके जन्म के बाद के समय को AD कहते है। जब ईसा मसीह का जन्म …