मगध के महामंत्री चाणक्य एक दिन राज काज से सम्बंधित किसी परामर्श के लिए मगध के सम्राट चंद्रगुप्त से मिलने जा रहे थे। अभी कुछ की दुरी तय हुयी थी, तभी अचानक रास्ते में उनके पाँव में काँटा चुभ गया। जिसके...