खाज खुजली क्या होता है ? (What is Scabies)

खाज खुजली संक्रामक और चर्म रोग है। खाज-खुजली एक प्रकार की कीड़े से फैलती है, जिसका नाम सरकोप्टस स्कैबी है। यह इसने सुक्ष्म होते है की इन्हें नंगी आँखों से देखना असंभव है। इन्हे सुक्ष्मजीव कहते है, इन्हें देखने के लिए माइक्रोस्कोप यानी सुक्ष्मदर्शी का इस्तेमाल करना पड़ता है।

खाज खुजली को दर्शाने के लिए फोटो

ये सरकोप्टस स्कैबी नामक कीड़े त्वचा में लगातार बिल बनाने की कोशिश करते रहते हैं। और अंततः त्वचा के अंदर प्रवेश कर अंडे पैदा करते हैं। जिसके वजह से खुजली होने लगती है तथा लाल लाल दाने या चकत्ते पड़ जाते हैं।

और पढ़ें: दाद (Ringworm) होने के: कारण, लक्षण और घरेलू उपचार

खाज खुजली होने के कारण और लक्षण (Causes and Symptoms of Scabies)

1. कारण (Causes)

एक व्यक्ति से दुसरे व्यक्ति में प्रत्यक्ष संपर्क से होता है। अगर किसी एक व्यक्ति को पहले से खाज-खुजली है तो दुसरे को प्रत्यक्ष संपर्क से होने की संभावना और बढ़ जाती है।

अगर आप साफ़ सफाई का कम ध्यान देते है, तो खाज बनाने वाली कीड़ा आपके गन्दगी वाले त्वचा पर पैदा हो सकती है। इसके अलावा गंदे कपडे का इस्तेमाल करने से, दुसरे का टॉवल या वस्त्र के इस्तेमाल से, किसी दुसरे का कोई संक्रमित सामान इस्तेमाल करने से या किसी भी तरह की संक्रमित संपर्क से।

खाज-खुजली होने के और भी कुछ वजह हो सकती है। जैसे – छोटे बच्चो के संपर्क में आने से, जानवरों के संपर्क में आने से, सक्रीय सम्भोग से स्त्री या पुरुष को इत्यादि।

पेट में कब्ज रहने से भी खाज-खुजली होनी की संभावना होती है। कब्ज मतलब खाने का सही से पाचन नहीं होना और इसी वजह से पेट के अंदर गन्दगी फैलानी शुरू होती है। तत्पश्चात खाज खुजली का पनपना शुरू हो जाता है।

ज्यादा मानसिक चिंता और तनाव के वजह से भी खुजली आपके शरीर में पैदा हो सकती है। अतः अपने मश्तिष्क को शांति और आराम दें, इसके लिए आपको योगा (Yoga) और ध्यान मग्न (Meditation) रोज करना चाहिए।

2. लक्षण (Symptoms)

अगर किसी को पहले से खाज-खुजली है तो इसे पहचानना आसान होता है। परन्तु अगर किसी को पहली बार हो रहा हो, तो इसके लक्षण को संभवतः 2 से 3 सप्ताह बाद ही पहचाना जा सकता है। निचे कुछ ऐसे लक्षण दिए गए हैं, जिनसे खाज-खुजली का अनुमान लगाया जा सकता है।

  • रात के वक्त खुजली होने से। अगर हर अगले दिन खुजली और बढने लगे तो यह खाज की ही लक्षण है।
  • अगर आपके त्वचा पर खुजली के साथ चकत्ते, लाल दाना, या ऐसा कुछ बड़ते जा रहा है तो यह खाज-खुजली का ही संकेत है।

खाज खुजली का घरेलू उपचार



  1. नीम की 25-30 ताजे नए पत्ते रोज सुबह शाम 100 ग्राम पानी के साथ लें।
  2. तुलसी और माजूफल के पत्ते खुजली वाले जगह पर पिस कर लगाने से खुजली सही हो जाती है।
  3. एक भाग नारियल का तेल तथा दो भाग तुलसी का रस एक साथ मिलकर धीमी आँच पर पकायें। पक जाने के बाद इसे शीशी में छानकर रख लें। फिर रोज सुबह स्नान करने से पहले लगायें और रात में सोने से पहले लगायें। इससे खाज-खुजली ठीक हो जाती है।
  4. नीम की भीतरी छाल को रातभर साफ़ मिट्टी के बर्तन में भिगोकर रखें तथा सुबह इसे बारीक पीसकर छान लें। रोज सुबह शाम इसे खुजली वाले स्थान पर लगायें।
  5. आमलासर गंधक को पीस लें और घी में मिलाकर रोज सुबह शाम मालिश करने से खाज खुजली ठीक हो जाती है।
  6.  25-30 ग्राम ताजे अनंतमूल के टुकड़े को पीसकर पिने से खाज खुजली ठीक हो जाती है।
  7. आवला, मंजीठ, हरड़, दारुहल्दी, बहेड़ा, गिलोय, नीम की छाल, कुटकी, बच इन सभी को काढा बनाकर कर पिने से खुजली ख़त्म हो जाती है।
  8. 10 ग्राम गाय के घी में 1 ग्राम काली मिर्च का चूर्ण मिलाकर लेने से खाज-खुजली ठीक हो जाती है।

खाज खुजली का आयुर्वेदिक उपचार

  1. पामारि चूर्ण को बहुत ही कम मात्रा में सरसों के साथ मिलाकर खाज-खुजली पर मालिश करें। ध्यान दे- पामारि चूर्ण का इस्तेमाल ज्यादा न करें क्यूँकी यह बहुत ही ज़लता है।
  2. तुखमलंगा 15 से 25 ग्राम खाना लाभप्रद होता है।
  3. व्रणराक्षस तेल का लेप करें, लाभप्रद होता है।

होम्योपैथिक उपचार (Homeopathic Treatment)

  1. सल्फर 6, 30 खाज-खुजली में बेहद लाभकारी होता है।
  2. लिडम 6, 30 पाँव के तलवे और एड़ियो के खुजली में बड़ा ही लाभकारी होता है।
  3. रेडियम ब्रोम 3,30 पुरे शरीर में जलन से साथ खाज-खुजली में लाभप्रद होता है।
  4. ऐनागेलिस 3, 6 हथेली और हाथ के खाज-खुजली के लिए लाभप्रद होता है।
  5. काफिया 6, 30 अत्यधिक खुजली में लाभकारी है।
  6. वायोला-ट्राईको 3 कान, मुह, सिर पर होने वाली खुजली के लिए लाभप्रद है।
  7. इक्थिपोलम 3 खाज खुजली, एग्जिमा, योनी में होने वाली खाज-खुजली के लिए लाभप्रद है।
  8. सीपिया 6 खाज खुजली और स्त्रियों के योनी में होने वाली फुंसियों के लिए लाभप्रद है।

यूनानी उपचार (Greek Treatment)

  1. हर प्रकार की खुजली में मरहम खारिश जदीद लाभकारी होता है।
  2. खाज खुजली में माजून उशवा बहुत उपयोगी है।
  3. रोगन कमीला खुजली को दूर करता है।

खाज खुजली मे इन बातों का ज़रूर ध्यान रखें

  • खाज वाले स्थान को कभी खुजाएँ नहीं, क्यूँकी ऐसा करने से वह जगह छिल जाती है। जिसके वजह से खाज वाली कीड़ा बाकि के असंक्रमित वाले त्वचा को भी संक्रमित कर देते है।
  • कभी भी किसी संक्रमित व्यक्ति का कोई भी वस्त्र या सामान न इस्तेमाल करें। जब तक की वह पूरी तरह से ठीक न हो जाए।
  • खाज-खुजली का इलाज करते समय संक्रमित व्यक्ति को अपने कपडे की सफाई गर्म पानी (लगभग 50°C) से करते रहना चाहिए।
  • अगर आपके घर में किसी व्यक्ति को खाज खुजली की समस्या है तो, उस व्यक्ति के वजह से बाकी के भी सदस्य को होने की संभावना 100 प्रतिशत होती है। अतः इलाज के दौरान उस व्यक्ति द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली हर एक चीज़ को गर्म पानी से साफ करें। तथा पुरे घर को ब्लीच या वैक्यूम द्वारा ज़रूर साफ़ करते रहें, ताकि एक भी खाज को जन्म देने वाली कीड़ा सरकोप्टस स्कैबी बचने ना पाए।
  • अपने पेट को हमेशा साफ़ रखें। यानी अच्छी आहार जैसे हरी सब्जिया बिना तेल मसाला के लेने की कोशिश करें।
  • ऐसे साबुन का इस्तेमाल करें जो हल्दी, नीम, तुलसी, गिलोय, घृतकुमारी, आवला, मुसब्बर वेरा (Aloe Vera), चन्दन जैसे चमत्कारी आयुर्वेदिक गुणों से मिलकर बनी हो।
  • ऊपर बताये गए उपचार का ज्यादा इस्तेमाल न करें। अर्थात अगर फायदा नहीं हो रहा है तो, किसी चर्म रोग विशेषज्ञ अथवा डॉक्टर से परामर्श लें।




धन्यवाद !

इस पेज के शुरुआत के यानी ऊपर दाहिने तरफ साइडबार में दिए गए सब्सक्राइब विकल्प में ईमेल आई. डी. डालकर आप हमें सब्सक्राइब कर सकते है। ताकि भविष्य में आने वाली हर एक लेख आपको सबसे पहले मिल सके।

आप हमें > फेसबुक | ट्विटर | गूगल + | यूट्यूब < पर फॉलो कर सकते हैं।

15 thoughts on “खाज खुजली (Scabies): कारण, लक्षण और घरेलू उपचार – SahiAurGalat

  1. Sarji muje 4 years see khujli hai thik nahi ho raha hai eska elaj bataye palizz bahut paresan hu sar ji Lal Lal Dane hai janga pe rat me bohat Jada hoti hai khujli

  2. Ek sal se khujli hai dwa ka ka k presan hogy but shi nhi hore hai.. jb dwa kana bnd krdo to fr se hojati plz agr ap help kkr dege to mahan dya hogi apki pgal hogy mai khujli se.. esa lgta h jaan le lo apni plz help me.

  3. Sir mujhe daat hua hai private part per Mai kya Karu ye Kyun hota hai uska ilaj agar ye badh Gaya to kya bahut badi samassiya ho Sakti hai please mujhe iska upay batao

  4. Hello sir मुझे पूरे शरीर में बहुत ज्यादा खुजली हे… Kya karu

  5. भाई
    मुझे सारे सरीर में खुजली होती है।।।सुरुआत में दोनों हाथ के पंजो पे और पैरों के पंजो पे।।मगर अब तो पुरे शारीर में हो रही है।।।।।सर के बालो में भी।।।1,5 महीनो से परेसान हु।।।।कोई अच्छा उपाय बताये।।दवाये खता हु तो 2 दिन आराम होता है।।जैसे ही दवा छोड़ता हु।।फिर से होने लगता है।।।

  6. सर मेरी मम्मी के पूरे शरीर में खुजली होती है लेकिन अब तो पैर और हाथ में दरारें पड़ जा रही है कृपया इसका उपचार बतांए ।

    1. कोमल जी, अपने घर और कपड़े का पेस्ट कंट्रोल करवाएँ। और ऊपर बताए गए किसी एक उपचार का इस्तेमाल करें।
      धन्यवाद !

  7. श्रीमान जी मै खुजली से बहुत ज्यादा परेशान हूँ सरसों का तेल लगाने से कुछ आराम मिलता है और मुझे जल्दी से जल्दी इसका इलाज बताओ में बहुत ज्यादा समय से परेशान हूँ मेरा मोबाइल नंबर 8295518704 है

  8. sir mere khujli hoti h or chakkte pad jate h fhir apne thodi der me theek h ho jate iska upchar btaye plz 1month se ho raha h

    1. Reetu Singh जी, सबसे पहले उसे खुजाना बंद कर दें, उससे और ज्यादा खुजली होगी। अगर सामान्य खुजली है, तो आप हल्दी, नीम, तुलसी, गिलोय, घृतकुमारी, आवला, मुसब्बर वेरा (Aloe Vera) युक्त साबुन का इस्तेमाल करें। तथा “Candid Dusting Powder” लगाएँ। खुजली होना बंद हो जाएगा।

      कमेंट करने के लिए धन्यवाद!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.