मुहांसे (Pimples or Acne) : कारण, लक्षण और घरेलू उपचार – SahiAurGalat

किल मुहांसे

मुहांसे क्या होता है?

मुहांसे चमड़ी की बीमारी यानी त्वचारोग है। जब होने शुरू होते है तब बहुत तकलीफ दायक होती है। यह चेहरे पर बहुत ही ज्यादा होती है।

वैसे ये शरीर पर कहीं भी हो सकती है। अधिकतर चेहरे के अलावा माथा, सिर, नितंब (Buttock), गर्दन, पीठ पर भी होती है।

मुहांसे को एक और नाम से भी जाना जाता है, पिटिका। अक्सर मुहांसे 13 से 14 वर्ष की उम्र से होने शुरू होते हैं।



मुहांसे होने के कारण और लक्षण

1. कारण (Causes)

  • तेल ग्रंथि (Sebaceous Glands) में किसी बैक्टीरिया के संक्रमण के कारण।
  • रोम छिद्रों में स्थित “तेल ग्रंथि (Sebaceous Glands)” के ज्यादा वसायुक्त होने के वजह से।
  • अर्थात शरीर से निकलने वाला वसायुक्त मल के न निकल पाने के वजह से भी होते हैं।
  • गर्भावस्था, मासिक धर्म तथा गर्भ निरोधक गोलियों के सेवन से भी हो सकते हैं।
  • किसी सस्ते, बकवास चेहरे की क्रीम के इस्तेमाल से भी हो सकते हैं।
  • अत्यधिक पसीना के दौरान कपड़े और त्वचा के रगड़ के कारण।
  • कम उम्र के में मानसिक तनाव के कारण तेल के अत्यधिक रिसाव के वजह से भी होते हैं।

 

2. लक्षण (Symptoms)

  • त्वचा पर उभरा हुआ लाल रंग का दर्दभरा बिना छेद अर्थात बिना मुह जैसा मस्सा का होना।
  • त्वचा पर दानेदार सफ़ेद रंग का होना।
  • पकने के बाद मवाद निकलना।

रामबाड़ घरेलू उपचार

  1. नींबू और गुलाब जल बराबर मात्रा में मिलाकर अपने मुहांसों पर लगायें। 20 मिनट बाद धो लें, 1 सप्ताह में सही हो जाएगा।
  2. नीम की हरी पत्ती कुछ बूँद पानी के साथ बारीक पीसकर किल मुहांसों पर लगायें।
  3. नीम के 8-10 पत्ते रोज सुबह खाली पेट पानी के साथ घोट जाएँ अथवा पीसकर पी जाएँ। बहुत फायदेमंद होती है।
  4. पपीते के गुदे को मुहांसे वाले स्थान पर अच्छे से हल्के हल्के घिसते हुए लगायें। फिर आधा घंटे बाद साफ़ कर लें।
  5. 25 ग्राम पिसा हुआ अजवाइन और 25 ग्राम दही दोनों को अच्छे से मिलाकर लगायें। 1 घंटे बाद धो लें, कुछ दिनों तक इस्तेमाल करने से सही हो जाएगा।
  6. आम की गुठली के तेल लगाने से किल मुहांसा ठीक हो जाता है।
  7. पिसा हुआ तिल और मक्खन दोनों एक साथ मिलाकर लगाने से किल मुहांसा ठीक हो जाते हैं।
  8. काली मिर्च को पानी से साथ पीसकर लगाने से ठीक जाता है। यह पीड़ादायक होता है।
  9. पिसी हुयी हल्दी तथा चन्दन को गुलाब जल के साथ मिलाकर लगाने से ठीक हो जाते हैं। लगाने के 1 घंटे बाद धो लें।
  10. जायफल को कच्चे दूध में घिसकर लगाने से मुहांसा ठीक हो जाते हैं।

होम्योपैथिक उपचार

  1. कैल्केरिया प्रिक्रे, युवा वर्ग के युवक चेहरे पर होने वाले मुहांसे के लिए इस्तेमाल कर सकते है।
  2. कैल्केरिया फ़ास, लड़कियों के चेहरे पर होने वाली मुहांसे के लिए लाभप्रद है।

यूनानी उपचार

  1. किल-मुहांसा, फोड़े-फुंसी तथा खून की शुद्धता के लिए साफ़ी बहुत ही अच्छी यूनानी दवा है।
  2. गाजा हुस्न अफ़जा – मुहांसे, चेहरे की दाग धब्बों के लिए लाभप्रद होता है।



इन बातों का ज़रूर ध्यान रखें

  1. अपने शरीर और चेहरे को हमेशा साफ़ रखें।
  2. अपने चेहरे को सूखेपन से बचाएं
  3. गरम चीजों का खाने में कम इस्तेमाल करें।
  4. हरी साग सब्जियों का खाने में ज्यादा इस्तेमाल करें।
  5. दिनभर में लगभग 10 से 12 गिलास पानी पिएं।
  6. सूती कपड़े पहनकर रोज व्यायाम करें तथा व्यायाम के तुरंत बाद स्नान करें।
  7. मेकअप और क्रीम के इस्तेमाल के बाद चेहरे को अच्छे से साफ़ करें।
  8. सबसे ख़ास बात, मानसिक तनाव से बचे।
  9. ऊपर बताये गए उपचार का ज्यादा इस्तेमाल न करें। अर्थात अगर फायदा नहीं हो रहा है तो, किसी चमड़े से संबधित विशेषज्ञ या डॉक्टर से परामर्श लें।

धन्यवाद !

इस पेज के शुरुआत के यानी ऊपर दाहिने तरफ साइडबार में दिए गए सब्सक्राइब विकल्प में ईमेल आई. डी. डालकर आप हमें सब्सक्राइब कर सकते है। ताकि भविष्य में आने वाली हर एक लेख आपको सबसे पहले मिल सके।

आप हमें > फेसबुक | ट्विटर | गूगल + | यूट्यूब < पर फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.