BC (ईसा पूर्व) और AD(ईस्वी) क्या होता है ? – SahiAurGalat

BC और AD मे अंतर

BC और AD का नामकरण ऐतिहासिक काल के समय को समझने और मापने के लिए बनाया गया था। ये दोनों शब्द ईसा मसीह के जन्म से ताल्लुक रखते है। ईसा मसीह के जन्म के पूर्व के समय को BC तथा उनके जन्म के बाद के समय को AD कहते है। जब ईसा मसीह का जन्म हुआ था तब उस वर्ष को 1AD तथा उनके जन्म के 1 वर्ष पूर्व को 1BC बोला गया था।



BC और AD के कुछ खास तथ्य

  • BC का इंग्लिश मे पूरा मतलब Before Christ तथा हिन्दी मे ईसा पूर्व होता है।
  • AD का इंग्लिश मे पूरा मतलब Anno Domini तथा हिन्दी मे ईस्वी होता है।

कुछ महान इतिहासकारों ने इन दोनों नाम को BCE और CE नाम भी दिया। BC को BCE अर्थात Before Common Era तथा AD को CE अर्थात Common Era कहते है।

सही और गलत की परिभाषा मे समझते है

BC (ईसा पूर्व ) का ” समय वर्ष ” उल्टे क्रम मे चलता है, उदाहरण के तौर पर –

  • मान लीजिये किसी राजा का जन्म ईसा मसीह के जन्म के 300 वर्ष पूर्व हुआ था। तो इसे हम 300 BC अर्थात 300 ईसा पूर्व लिखेंगे। और अगर इस राजा की मृत्यु जन्म के 70 साल बाद हो गयी, तो इस राजा की मृत्यु को हम 230 BC अर्थात 230 ईसा पूर्व लिखेंगे।
  • अतः BC (ईसा पूर्व) मे हुये हर एक वर्ष की गणना समय बितने के हिसाब से घटता है। BC को अंक वर्ष मे दर्शाते हुये बाद मे लिखते है, जैसे 300 BC, 175 BC आदि।

AD ( ईस्वी ) का ” समय वर्ष ” सीधे क्रम मे चलता है, उदाहरण के तौर पर –

  • मान लीजिये किसी भारतीय महान वैज्ञानिक का जन्म ईसा मसीह के जन्म के बाद हुआ हो, तब उसके जन्म वर्ष को AD अर्थात ईस्वी मे लिखते है। जैसे – भास्कर प्रथम का जन्म ईसा के जन्म के 600 वर्ष बाद तथा मुत्यु 680 वर्ष बाद हुआ था। अतः उनके जन्म तारीख को ” AD 600 (600 ईस्वी)” और मुत्यु तारीख को “AD 680 (680 ईस्वी)” लिखेंगे।
  • AD (ईस्वी) की हर एक वर्ष गणना समय के अनुसार बढ़ते क्रम मे लिखते है। AD को अंक मे दर्शाते हुये पहले लिखते है, जैसे – AD 300, AD 278 आदि।




धन्यवाद !

इस पेज के शुरुआत के यानी ऊपर दाहिने तरफ साइडबार में दिए गए सब्सक्राइब विकल्प में ईमेल आई. डी. डालकर आप हमें सब्सक्राइब कर सकते है। ताकि भविष्य में आने वाली हर एक लेख आपको सबसे पहले मिल सके।

आप हमें > फेसबुक | ट्विटर | गूगल + | यूट्यूब < पर फॉलो कर सकते हैं।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.